Breaking News
क्रेडिट स्कोर का बेहतर होना क्यों है जरूरी, जानिए लोन प्राप्त करने में यह कैसे करता है मदद
क्रेडिट स्कोर का बेहतर होना क्यों है जरूरी, जानिए लोन प्राप्त करने में यह कैसे करता है मदद

क्रेडिट स्कोर का बेहतर होना क्यों है जरूरी, जानिए लोन प्राप्त करने में यह कैसे करता है मदद

क्रेडिट स्कोर का बेहतर होना क्यों है जरूरी, जानिए लोन प्राप्त करने में यह कैसे करता है मदद : मोबाइल वॉलेट ऐप पेटीएम (Paytm) ने क्रेडिट स्कोर चेक करने की सुविधा लॉन्च की है। अब आप यूजर्स डिटेल में अपना क्रेडिट रिपोर्ट देख सकते हैं। इसके जरिए एक्टिव क्रेडिट कार्ड और लोन अकाउंट की क्रेडिट रिपोर्ट भी देख सकेंगे।

 

सिबिल स्कोर क्या है?

आपके लोन लेने और उसे चुकाने की हिस्ट्री वास्तव में सिबिल स्कोर है. सिबिल स्कोर से यह पता चलता है कि आपने पहले कितना लोन लिया है और उसका भुगतान किस तरह किया है. अब बैंक लोन देने से पहले आपका सिबिल स्कोर चेक करते हैं.

क्या हैं नुकसान?

अगर आपने क्रेडिट कार्ड बिल का भुगतान देरी से किया है या आपकी कोई मासिक किस्त बाउंस हो गयी तो आप डिफॉल्टर घोषित हो सकते हैं. इससे आपके क्रेडिट स्कोर पर नकारात्मक असर पड़ सकता है.

क्रेडिट खाते की संख्या

समय पर लोन चुकाने से सिबिल स्कोर का 30% हिस्सा बनता है. इस वजह से आपको अपने क्रेडिट कार्ड की लिमिट और बकाया रकम कम रखना चाहिए. सिबिल स्कोर दुरुस्त रहे इसलिए आप क्रेडिट कार्ड से ज्यादा लोन नहीं लें.

क्रेडिट स्कोर का बेहतर होना क्यों है जरूरी, जानिए लोन प्राप्त करने में यह कैसे करता है मदद

आपको होम लोन, ऑटो लोन जैसे सुरक्षित कर्ज को ज्यादा महत्व देना चाहिए. पर्सनल लोन और क्रेडिट कार्ड लोन असुरक्षित लोन हैं, इनसे आपको बचना चाहिए. सिक्योर्ड या अनसिक्योर्ड लोन का सिबिल स्कोर का 25% हिस्सा है.

यह हैं कुछ फायदे

अगर आपकी आमदनी ठीक-ठाक है और आप दो-तीन क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल कर रहे हैं तो आपके लिए चिंता की बात नहीं है. समस्या तब हो सकती है अगर आप क्रेडिट कार्ड की लिमिट का 60 फीसदी से ज्यादा उपयोग करते हैं.

क्रेडिट स्कोर को कौन से प्रमुख कारक प्रभावित करते हैं?

CIBIL स्कोर, आपके क्रेडिट इतिहास की 3 अंकों का सांख्यिक सारांश है, जिसे आपकी CIBIL रिपोर्ट पर मौजूद ‘खाते’ और ‘पूछताछ’ अनुभागों में मिलने वाले विवरण का उपयोग करके प्राप्त किया जाता है और यह 300 से 900 के बीच होता है. आपका स्कोर 900 के जितना करीब होता है, आपके ऋण आवेदन के स्वीकृत होने की उतनी ही ज़्यादा संभावनाएं होती हैं.

मिलता है ज्यादा लोन

अच्छा क्रेडिट स्कोर (Good Credit Score) ये दिखाता है कि अब तक आपने अपना लोन सही समय पर चुकाया है. इसीलिए जब आप बैंक या NBFC के पास लोन लेने जाते हैं तो वह आपको आपकी जरूरत के हिसाब से आसानी से लोन उपलब्ध करा देता है. अगर आपका क्रेडिट स्कोर खराब है तो बैंक आपको ज्यादा लोन नहीं देगा. हो सकता है बैंक आपको आपकी जरूरत के हिसाब से लोन देने से मना कर दे.

सभी तरह की खबरों से जुड़े रहने के लिए हमारे फेसबुक पेज से जुड़े

About Rahul

Check Also

बेहद Bold हैं टीवी शो ‘कुंडली भाग्य’ की संस्कारी बहू प्रीता,बड़े डायरेक्टर की फिल्म से बॉलीवुड में करेंगी एंट्री!

बेहद Bold हैं टीवी शो ‘कुंडली भाग्य’ की संस्कारी बहू प्रीता,बड़े डायरेक्टर की फिल्म से बॉलीवुड में करेंगी एंट्री!

बेहद Bold हैं टीवी शो ‘कुंडली भाग्य’ की संस्कारी बहू प्रीता,बड़े डायरेक्टर की फिल्म से …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *