Breaking News
18 अगस्त को मनाई जाएगी कृष्ण जन्माष्टमी, नोट करें पूजा का खास मुहूर्त, पूजन सामग्री और विधि
18 अगस्त को मनाई जाएगी कृष्ण जन्माष्टमी, नोट करें पूजा का खास मुहूर्त, पूजन सामग्री और विधि

18 अगस्त को मनाई जाएगी कृष्ण जन्माष्टमी, नोट करें पूजा का खास मुहूर्त, पूजन सामग्री और विधि

18 अगस्त को मनाई जाएगी कृष्ण जन्माष्टमी, नोट करें पूजा का खास मुहूर्त, पूजन सामग्री और विधि: भगवान कृष्ण की पसंदीदा चीज: श्री कृष्ण जन्माष्टमी भक्तों में खासा उत्साह है! श्री कृष्ण जन्माष्टमी हर साल भाद्रपद कृष्ण अष्टमी तिथि को मनाई जाती है! इस दिन, भक्त आधी रात को लड्डू गोपाल की पूजा करके अपना उपवास तोड़ते हैं! उपवास 18 अगस्त को होगा और उत्सव इस साल 19 अगस्त को होगा! जन्माष्टमी 2022 पर भगवान कृष्ण की पूजा में उनकी पसंदीदा चीजें अर्पित की जाती हैं! ऐसा माना जाता है कि ऐसा करने से श्री कृष्ण की कृपा प्राप्त होती है! उन पांच चीजों का वर्णन करें जो भगवान कृष्ण को बहुत प्रिय हैं, जिनका उपयोग अक्सर पूजा में किया जाता है!

18 अगस्त को मनाई जाएगी कृष्ण जन्माष्टमी, नोट करें पूजा का खास मुहूर्त, पूजन सामग्री और विधि

गाय

पौराणिक कथाओं के अनुसार कृष्ण ने बचपन में गोमाता की बहुत सेवा की थी! गोमाता से उनका लगाव विशेष था! यही कारण है कि लड्डू गोपाल को चढ़ाया जाने वाला भोग गाय के घी से तैयार किया जाता है! ऐसे में जन्माष्टमी के दिन लड्डू गोपाल की पूजा में भी गौमाता की मूर्ति स्थापित की जा सकती है.

बांसुरी

कृष्ण की पसंदीदा वस्तुओं में से एक के रूप में, बांसुरी उनके पसंदीदा वाद्ययंत्रों में से एक है! माना जाता है कि बांसुरी की पूजा से श्रीकृष्ण की विशेष कृपा होती है! फलस्वरूप श्री कृष्ण जन्माष्टमी की पूजा में आप बांसुरी भी रख सकते हैं!

SEE MORE- इन चीजों पर टिका होता है पति-पत्नी का रिश्ता, जरा सी चूक से बिखर जाता है घर

मोर पंख

गोपाल जी को मोर पंख बेहद प्रिय है. इसलिए जन्माष्टमी के दिन भक्त मोर पंख अनिवार्य रूप लगाए. ऐसे में जन्माष्टमी के दिन विशेष पर आप लड्डू गोपाल जी की पूजा में मोर पंख जरूर रखें. ऐसी मान्यता भी है कि मोर पंख जहां होता है, वहां से नकारात्मकता खत्म हो जाती है

18 अगस्त को मनाई जाएगी कृष्ण जन्माष्टमी, नोट करें पूजा का खास मुहूर्त, पूजन सामग्री और विधि

माखन और मिश्री

भगवान श्रीकृष्ण के माखन चुराने की तो बहुत सी कहानियां आपने सुनी होगी! माखन और मिश्री उनके पसंदीदा वस्तुओं में से एक है! जिसका वर्णन पौराणिक कथाओं में भी किया गया है! इसलिए आपको  जन्माष्टमी की पूजा में माखन और मिश्री का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए!

धनिया की पंजीरी

जन्माष्टमी के दिन पूजा में धनिया की पंजीरी का प्रसाद जरूर शामिल करें, क्योंकि भगवान श्रीकृष्ण को धनिया की पंजीरी बेहद प्रिय है. मान्यता है कि धनिया का संबंध धन से होता है और भगवान कृष्ण को धनिया की पंजीरी अर्पन करने से कभी भी धन की कमी नहीं होती है

सभी तरह की खबरों से जुड़े रहने के लिए हमारे फेसबुक पेज से जुड़े

About Rahul

Check Also

Dayaben के फैंस के लिए खुशखबरी, घूंघट में छिपाकर हुई दयाबेन की शो में एंट्री, मेकर्स ने दिया दर्शकों को जबरदस्त सरप्राइज!

Dayaben: तारक मेहता का उल्टा चश्मा पिछले 14 सालों से हमारा मनोरंजन करता आया है …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *