वैष्णो देवी बस हमले के बाद अमरनाथ यात्रा को लेकर अलर्ट सुरक्षा बल, आज होगी बैठक!

Alert security force regarding Amarnath Yatra after Vaishno Devi bus attack, meeting will be held today!: रिपोर्ट के अनुसार, सूत्रों ने दावा किया है कि अमरनाथ यात्रा में सुरक्षा बढ़ाई जाएगी। साथ ही पहले से तय के मुकाबले ज्यादा सैनिक भी तैनात किए जाएंगे। खबर है कि CRPF डीजी जमीनी हालात का जायजा लेने के बाद अमरनाथ यात्रा में सुरक्षा व्यवस्था की जानकारी देंगे। वह सोमवार शाम दिल्ली पहुंच सकते हैं।

बस में लगी आग, कश्मीरी पंडित की हत्या

गुरुवार के दिन वैष्णोदेवी जा रही तीर्थयात्रियों से भरी बस में आग लग गई. इस घटना में 4 लोगों की मौत हो गई जबकि 22 लोग घायल हुए. वहीं तहसील दफ्तर में काम करने वाले कश्मीरी पंडित राहुल भट्ट की आतंकियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी.एक खबर में बताया गया है कि बस में आग एक आतंकी हमला था, ना कि सामान्य घटना. बस में धमाके के लिए स्टिकी बॉम्ब का इस्तेमाल किया गया था.

रिपोर्ट के अनुसार, संभावना है कि सरकार वैष्णो देवी मंदिर में भी अतिरिक्त सैनिक तैनात कर सकती है। रिपोर्ट के मुताबिक, बीते कुछ दिनों से कई इंटेलीजेंस इनपुट्स आ रहे हैं, जिनमें ये संकेत हैं कि आतंकी संगठन मंदिरों, कश्मीरी पंडितों और जम्मू और कश्मीर में रह रहे प्रवासियों को निशाना बनाने की कोशिश कर रहे हैं। इनपुट्स यह भी बता रहे हैं कि आतंकी संगठनों ने जम्मू में आक्रामक होकर काम करना शुरू कर दिया है, जो जम्मू और कश्मीर में तैनात सुरक्षाबलों के लिए चुनौती बन रहा है।

अमरनाथजी श्राइन बोर्ड के सदस्यों ने भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक में हिस्सा लिया. सूत्रों ने बताया कि भल्ला को यात्रा के दौरान विशिष्ट स्थानों के साथ-साथ क्षेत्र की स्थिति पर सुरक्षा अपडेट और केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों के विभाग से अवगत कराया गया. ये बैठक उनकी जम्मू-कश्मीर की दिनभर की यात्रा के लगभग एक महीने बाद आयोजित की गई थी, जिसमें उन्होंने अमरनाथ यात्रा की तैयारियों का जायजा लिया था. केंद्रीय गृह सचिव ने 15 अप्रैल को जम्मू-कश्मीर का दौरा किया था.

अमरनाथ यात्रा 2022 के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 11 अप्रैल को शुरू हुआ और गृह मंत्रालय ने यात्रा के दौरान सुरक्षा प्रदान करने के उद्देश्य से सीएपीएफ की लगभग 50 कंपनियों को पहले ही मंजूरी दे दी है, क्योंकि जम्मू और कश्मीर में इस साल लगभग तीन लाख तीर्थयात्रियों के अमरनाथ गुफा मंदिर जाने की उम्मीद है. ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन पहले ही शुरू हो चुका है. तीर्थयात्रा 30 जून से 11 अगस्त के बीच 43 दिनों तक चलने वाली है. हिमालय के ऊपरी भाग में स्थित भगवान शिव के 3,880 मीटर ऊंचे गुफा मंदिर के लिए अमरनाथ तीर्थ यात्रा पहलगाम और बालटाल के जुड़वां मार्गों से होती है. जम्मू और कश्मीर सरकार ने साल 2020 और साल 2021 में मौजूदा कोविड-19 स्थिति के कारण अमरनाथ यात्रा को रद्द कर दिया था.

सभी तरह की खबरों से जुड़े रहने के लिए हमारे फेसबुक पेज से जुड़े

About Rahul

Check Also

Aishwarya Rai ने दिया एक और बच्चे को जन्म, दादा और अभिषेक की खुशी का ठिकाना नहीं, पूरे बच्चन परिवार में खुशी की लहर…

ऐश्वर्या राय (Aishwarya Rai) बच्चन परिवार की बहू बनने के बाद काफी ज्यादा चर्चा में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *